July 16, 2019
Business

क्यों ना प्रधानमन्त्री जी को परमानेंट कर दें ???

खैर….सुझाव थोड़ा अजीब है लकिन फायदे बहुत हैं, देखिये विपक्ष को कितने तकलीफें है और श्री श्री अरविन्द केजरीवाल जी तो बहुत ज्यादा ही दुखी हैं, कई भाइयों को भी हताशा है कि भारत दिन ब दिन गरीब देश होता जा रहा है तो समस्या कैसे सुलझे मने…अभी वाला बन्दा काम भी अच्छा कर रहा है, पार्टी भी ठीक ठाक है, और विरोधियों का क्या वो तो ना बोलने वाले पर भी रोते थे, बोलने वाले पर भी छाती पीट रहे है..खैर हम जैसे आम इंसान का फायदा ये है कि जब भी PM बदलता है सब कुछ बदलना पड़ता है, इंडियन आयल के पोस्टर से लेकर सामान्यज्ञान के सवाल तक हर चीज़ बदलनी पड़ती है। तो बार बार खर्च कौन उठाये यही प्रधानमन्त्री चलने देते हैं परमानेंटली। देश में कुछ भाइयों के लटके हुए चेहरे और जीडीपी पर उनका अपार ज्ञान देख कर तो मैं अपने सुझाव से संतुष्ट हूँ की आइडिया काम कर जाएगा, और EVM का भी ( censored) “डंडीरोना” चल रहा है तो चलो स्यापा खत्म करें evm को भी कचरे में फेंक देते हैं जब PM परमानेंट होगा तो वोटिंग क्यों..फ़ालतू का खर्चा… फलाने को वोट दो, ढिकाने से बिजली मुफ्त लो वाले बैनर बनवाने का खर्चा बच जाएगा। और फिर लंबी लाइन क्या पता कौन मर जाए लाइन में ? देश हित की बात करो भाई और गवर्नमेंट वाले बाबूजी को तो पहले ही काम का इतना बोझ है ऊपर से तुम लोग हर तीसरे दिन PM बदल देते हो विकास क्या खाख होगा मालूम है लकड़ी की सरकारी कुर्सी पे बैठ कर 57 में बने पंखे की हवा खाते हुए, हवाई चप्पल पहन कर नए नवेले PM का नाम याद रखना कितना मुश्किल है तुम प्राइवेट नौकरी वाले क्या जानो इसीलिए जो है उसको पक्का करो। क्योंकि पैसा तो हमारा ही है…ऊपर से इतनी महंगाई श्रीमती जी भी अब तो राशन लाने वाले दिन ज़रा रहम नहीं करतीं कहने लगी है काजू बादाम का ही नाश्ता करेंगे ?

अब बताइये कई भाई तो ये भी बोल रहे हैं कि 15 लाख के चक्कर में तो हमारी कब्ज़ बढ़ गई तो सबसे ज्यादा उनका सोचें देखिये टेम्पररी PM होगा तो कल गायब हो जायेगा 15 लाख किस से लेंगे ??

परमानेंट होगा तो हर हफ्ते लेनदारी वाली बात कर सकते हैं ??

इसलिए EVM को मारो गोली बन्दे को परमानेन्ट करो

उम्मीद है हम भक्तों की तरह विपक्षी भाई सहमत होंगे, बात दोनों के फायदे की है

धन्यवाद

नोट – उपरोक्त लेख पूरी तरह लेखक की निजी राय है जिसे लेखक ने भारी भरकम राजनीतिक माहौल के बीच व्यंग्यात्मक  शैली मे प्रस्तुत किया है, Team One2all किसी भी प्रकार नि राजनीतिक विचारधारा से दूर है

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *